गर्मी की छुट्टी पर निबंध (Summer Vacation Essay In Hindi)

आज के इस लेख में हम गर्मी की छुट्टी पर निबंध (Essay On Summer Vacation In Hindi) लिखेंगे। गर्मी की छुट्टी पर लिखा यह निबंध बच्चो और class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए लिखा गया है।

गर्मी की छुट्टी पर लिखा हुआ यह निबंध (Essay On Summer Vacation In Hindi) आप अपने स्कूल या फिर कॉलेज प्रोजेक्ट के लिए इस्तेमाल कर सकते है। आपको हमारे इस वेबसाइट पर और भी कही विषयो पर हिंदी में निबंध मिलेंगे, जिन्हे आप पढ़ सकते है।

गर्मी की छुट्टी पर निबंध (Summer Vacation Essay In Hindi)


प्रस्तावना

गर्मी की छुट्टियां स्कूल के जीवन को ज्ञापन करने वाले बच्चों के लिए काफी ज्यादा महत्व की होती है। बच्चे गर्मियों के छुट्टियों के इंतजार में साल भर से लगे होते हैं और गर्मी की छुट्टियों में खूब मजे करते हैं।

गर्मी की छुट्टियां बच्चों के वार्षिक परीक्षा और परिणाम के पश्चात करीब एक से डेढ़ महीने की होती है। गर्मी की इन छुट्टियों के दौरान बच्चे कई प्रकार के टूर करते हैं। कई बच्चे अपने रिश्तेदारों के घर जाकर छुट्टियां इंजॉय करते हैं।

गर्मी की छुट्टियां विद्यार्थियों के जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और विद्यार्थियों को पढ़ाई से थोड़ा आराम इन गर्मियों की छुट्टियों के दौरान मिलता है। गर्मियों की छुट्टियां विद्यार्थियों के लिए किसी त्योहार से कम नहीं होती है।

बच्चों के लिए गर्मियों की छुट्टियां एक उत्सव के समान होती है। जिसका इंतजार बच्चे हर साल करते हैं। गर्मियों की छुट्टियों में बच्चों के लिए अपने स्कूल के कार्य और पढ़ाई की भागा दौड़ से राहत मिलती है।

साथ ही साल भर के बाद पढ़ाई से इन छुट्टियों के दौरान ब्रेक मिलता है। ज्यादातर विद्यार्थी इन छुट्टियों में अपने दिमाग को और अधिक फ्रेश करने के लिए कहीं भ्रमण करने का प्लान करते हैं। कई विद्यार्थी अपने रिश्तेदारों के घर जाकर भी इन छुट्टियों का आनंद उठाते हैं।

यह छुट्टियां बच्चों को पढ़ाई से दूर और कई प्रकार के मनोरंजक यात्रा करने के लिए उत्साहित करती है। गर्मी की वजह से बच्चों को राहत देने के लिए पाठशालाये बंद रहती है। और करीब 1 से डेढ़ महीने कहां ग्रीष्मकालीन अवकाश रखा जाता है। उन छुट्टियों के दौरान बच्चे काफी आरामदायक और मनोरंजक वातावरण महसूस करते हैं।

कैसे बिताये गर्मियों की छुट्टियां

गर्मियों की छुट्टियों को मनाने के लिए कई प्रकार के तौर तरीके हैं। लेकिन इनमें से ज्यादातर लोग गर्मियों की छुट्टियों में कहीं न कहीं भ्रमण करने के बारे में सोचते हैं।

गर्मियों की छुट्टियों में विद्यार्थी अपने परिवार जनों के साथ पर्यटक स्थलों पर घूमने की योजना बनाते हैं और इस योजना अवधि के जरिए भ्रमण करके गर्मियों की छुट्टियों को और भी अधिक मनोरंजक बनाया जा सकता है। भ्रमण करते दौरान बस या ट्रेन के जरिए की गई यात्रा भी काफी यादगार बन जाती है।

गर्मियों की छुट्टियों में ठंडे स्थानों पर जाना ज्यादातर लोग पसंद करते हैं। उदाहरण के तौर पर यदि आप शिमला जैसे पहाड़ी क्षेत्रों में घूमने का मन बनाते हैं। तो यह गर्मियों की छुट्टियों के लिए काफी रोचक स्थान माना जाता है। यहां की हरियाली मनमोहक है। यहां की प्राकृतिक सौंदर्य हर किसी के मन को लुभाने वाली है।

यहां गर्मियों की छुट्टियों में बताया गया हर पल हमें सदैव स्मरण रहेगा। क्योंकि जब आप शिमला की पहाड़ियों पर पहुंचते हैं, तो ऐसा लगता है कि आप स्वर्ग में आ गए हैं। चारों तरफ हरियाली, ठंडी-ठंडी हवाएं और प्राकृतिक सौंदर्य का नजारा हर किसी के लिए एक बेहतरीन यादगार पल बनता है।

कई विद्यार्थी रेल से पहली बार यात्रा करते हैं। तो उनके लिए रेल का सफर भी किसी यात्रा से कम नहीं होता । विद्यार्थियों को सफर में उछल कूद करना काफी पसंद होता है। सफर के दौरान आप अंतरआक्षी या कोई अन्य गेम खेलकर भी अपना समय व्यतीत कर सकते हैं और यात्रा को और अधिक मनोरंजक बना सकते हैं।

गर्मियों की छुट्टियां क्यों है जरूरी

गर्मियों की छुट्टियां सभी स्कूल और कॉलेज में रहती है। कई सरकारी दफ्तर भी गर्मियों की छुट्टियों के कारण बंद रहते हैं। गर्मियों की छुट्टियां सरकार द्वारा रखी जाती है। गर्मियों के छुट्टियों की जरूरत इसीलिए है, क्योंकि विद्यार्थी स्कूल और कॉलेज में लंबे समय तक लगातार पढ़ाई के तनाव के बीच रहते हैं।

ऐसे में उन्हें परीक्षा के परिणाम के पश्चात कुछ दिनों की छुट्टियां देकर परीक्षा के तनाव से दूर किया जाता है, ताकि अगले साल पुनः विद्यार्थी फ्रेश माइंड के साथ बेहतर तैयारी कर सके। ऐसा ही अन्य सरकारी दफ्तर में भी होता है।

जिन्हें काम से थोड़ा आराम मिलने के लिए गर्मियों की छुट्टियां दी जाती है। गर्मियों की छुट्टियां रखने का मुख्य उद्देश्य यह भी है की अधिक गर्मी के कारण विद्यार्थी स्कूल नहीं जा पाते। ऐसे में गर्मियों की छुट्टियां सरकार द्वारा दी जाती है, ताकि भीषण गर्मी के दौरान छोटे बच्चों को स्कूल जाने के लिए कोई परेशानी ना हो।

गर्मि की छुट्टियों के कुछ क्षण

जीवन में भ्रमण करना बहुत ही जरूरी होता है और गर्मियों की छुट्टियो में आप बड़े आसानी से भ्रमण कर सकते हैं। भ्रमण करने के लिए गर्मियों की छुट्टियां सबसे बेहतरीन समय माना जाता है। इस समय आप अपने कई प्रकार के शौक और सपनों को पूरा कर सकते हैं।

ज्यादातर विद्यार्थियों को घूमना पसंद होता है और गर्मियों की छुट्टियां जिसके दौरान विद्यार्थी अपने इस शौक को पूरा कर सकते हैं। इतना ही नहीं शरीर के लिए घूमना बहुत जरूरी है। क्योंकि जीवन में लगातार एक समान शेड्यूल से जीवन नीरस बन जाता है और इस प्रकार से जीवन में आनंद और आकर्षण नहीं रहता है।

निश्चित समय तालिका के आधार पर जीवन गुजारना लोगों के लिए मुश्किल हो जाता है और हर रोज समान प्रकार के कार्य करके लोग अपने जीवन की दिनचर्या से उब जाते हैं। ऐसे में मानसिक रूप से उल्लास और उत्साह बिल्कुल समाप्त हो जाता है।

व्यक्ति मानसिक रूप से काफी तनाव महसूस करना शुरू कर देता है। इसीलिए गर्मियों के अवकाश के दौरान व्यक्ति अपने को बदल कर खुद को आजाद परिंदे की तरह महसूस कर सकता है।

व्यक्ति अपने तनावपूर्ण जिंदगी को पुनः मनोरंजक बना सकता है। जीवन में घूमना और वातावरण का परिवर्तन बहुत ही जरूरी है। क्योंकि दुनिया में परिवर्तन होना जीवन का दूसरा नाम है।

इस दुनिया में हर प्रकार के कार्य को करना और नए नए कार्य करके उनसे कुछ सीखना बहुत जरूरी होता है। इसी प्रकार आप ऐतिहासिक पर्यटक स्थलों और अन्य दार्शनिक स्थलों पर जाकर कई प्रकार की नई चीजें सीख सकते हैं।

कई स्कूलों और विश्वविद्यालयों में गर्मियों की छुट्टियों के दौरान भ्रमण दूर रखा जाता है। ताकि विद्यार्थियों को कुछ नया सीखने को मिले और विद्यार्थी कुछ पल मनोरंजन के साथ व्यतीत कर सकें।

आपने इतिहास में कई प्रकार के पर्यटक स्थल, ऐतिहासिक दुर्ग, झीलें, कई उद्यान इत्यादि के बारे में पढ़ा होगा। लेकिन पढ़ने से अधिक आप इन स्थलों पर एक बार घूमने जाते हैं, तो इनके बारे में आपको बेहतर जानकारी मिल जाती है और वह जानकारी हमेशा याद भी रहती है।

कई विद्यार्थी अपनी इन छुट्टियों को एक नए तरीके से व्यतीत करना पसंद करते हैं। विद्यार्थी जो पढ़ाई में अधिक रूचि रखते हैं। वे विद्यार्थी पुस्तकालय में अपना ज्यादातर समय व्यतीत करते हैं और नया सीखने की कोशिश करते हैं।

कई विद्यार्थी जिनको प्रैक्टिकल और प्रोजेक्ट बनाने अच्छे लगते हैं, वे विद्यार्थी इस प्रकार से अपना मनोरंजन करते हैं। कई विद्यार्थी इन ग्रीष्म काल की छुट्टियों में भी अगले साल की पढ़ाई पर फोकस करते हैं। परन्तु हर विद्यार्थी के जीवन में भ्रमण करना बहुत ही जरूरी है।

गर्मियों की छुट्टियों का बेहतर उपयोग

गर्मियों की छुट्टियों का बेहतर उपयोग करना हर किसी व्यक्ति को आना चाहिए। गर्मियों की छुट्टियां लोगों के लिए एक बेहतरीन अवसर है। इस अवसर के दौरान लोग कुछ नया सीख सकते हैं। गर्मियों की छुट्टियों का सदुपयोग करते हुए विद्यार्थी अपने कई अधूरे सपनों को पूरा कर सकते हैं।

गर्मियों की छुट्टियों में केवल भ्रमण करना ही जरूरी नहीं है। इसके अलावा अन्य कई प्रकार के कार्य में प्रोजेक्ट बनाना और नए कार्य में दिलचस्प होना भी जरूरी है।

गर्मियों की छुट्टियों में कमजोर विषयों को बेहतर बनाने के लिए ट्यूशन कक्षाएं ज्वाइन करना और उस कमजोर सब्जेक्ट को मजबूत बनाने की कोशिश करना भी शामिल है। ताकि अगली क्लास में आपको इन छुट्टियों में की गई मेहनत का फायदा मिल सके।

इसके अलावा गर्मियों की छुट्टियों में अपने आस पास के परिसर जाकर वहां मनोरंजन के साथ-साथ उस पर्यटक स्थल के बारे में भी जानकारी हासिल करें। ताकि भविष्य में भी कभी वह जानकारी आपके काम आ सके।

इतना ही नहीं कोई लोग शहरों में रहते हैं, उन लोगों को अपने परिवार जनों के पास गांवों में भी जाना चाहिए। गांवों का भ्रमण सबसे बेहतरीन और स्मरणीय होता है। गांव में जाने पर बचपन की याद ताजा हो जाती है। दादा – दादी और अन्य परिवार जनों के साथ खेलने से विद्यार्थी अपने सारे तनाव भूल जाता है।

विद्यार्थी इन गर्मियों की छुट्टियों में कई प्रकार के साइंस सिटी या पब्लिक पार्क, Zoo इत्यादि का भ्रमण करके इन छुट्टियों का आनंद उठा सकते हैं। आज के समय में स्मार्टफोन हर किसी व्यक्ति के पास है। व्यक्ति अपने गर्मियों की छुट्टियों में किए गए कार्य को इस स्मार्टफोन के जरिए कैद करके यादगार बना सकता है।

निष्कर्ष

गर्मियों की छुट्टियां सभी लोगों के लिए एक बेहतरीन समय माना जाता है। सबसे अधिक खुशी गर्मियों की छुट्टियों में विद्यार्थियों को होती है, जो विद्यार्थी स्कूल से छुटकारा पाना चाहते हैं। विद्यार्थियों की यह खुशी कुछ समय की है जिसे लंबे समय से पढ़ाई के तनाव को दूर करने के लिए सरकार द्वारा रखी जाती है।

गर्मियों की छुट्टियों में विद्यार्थी कई प्रकार के कार्य करके उन छुट्टियों का आनंद उठा सकता है। इतना ही नहीं विद्यार्थी अपने नए कार्यों को भी इन छुट्टियों के दौरान आसानी से कर सकते है।

गर्मियों की छुट्टियां बेहतर तरीके से मनाना उचित रहेगा क्योंकि यह छुट्टियां आपको तनाव से दूर करने के लिए रखी जाती है। हालांकि छुट्टियों का मुख्य उद्देश्य कड़ाके की गर्मी में विद्यार्थियों को स्कूल जाने में होने वाली समस्या को दूर करने के लिए है। लेकिन फिर भी आप अपने तनाव को इन छुट्टियों के दौरान बेहतर तरीके से दूर कर सकते हैं।


गर्मी की छुट्टियां पर निबंध (Summer Holidays Essay In Hindi)


गर्मी की छुट्टी हमारे स्कूल की सबसे लंबी छुट्टी होती है। इन छुट्टीयो के आने का इंतजार हम हर साल करते हैं। इस छुट्टी के लिए बहुत सारे जगह घूमने जाने की योजना भी हम बनाते हैं।

जब हमे स्कूल से गर्मी की छुट्टी मिलती हैं तो हर बार हम अपने परिवार के साथ घूमने जाते हैं। हमारे स्कूल के सभी दोस्त अलग -अलग जगह पे घूमने की तैयारियाँ करते हैं। हमारे स्कूल के सभी विषय के शिक्षक गर्मी की छुट्टी में होम वर्क ज्यादा – ज्यादा देते हैं, जिससे हम अपने पढ़ाई के साथ भी जुड़े रहे।

गर्मी का छुट्टी हमे गर्मी से बचने के लिए कुछ समय तक दि जाती हैं और इस समय परीक्षा भी खत्म हुई होती है। जिससे हमें पढ़ाई से हट कर मन बहलाने का मौका मिलता हैं। गर्मी की छुट्टी में हम सबसे ज्यादा खुश रहते हैं। इन छुट्टीयो में ज्यादा तर हम सभी परिवार के साथ बर्फीली जगह पे जाते है, क्योकि वहां हमे गर्मी कम महसूस होती हैं।

एक बार मेरे परिवार के सभी लोगो ने गर्मी की छुट्टी में अपने देश से बाहर घूमने की योजना बनायी और हम सभी बहुत खुश थे। लेकिन किसी कारण बस ये योजना रद्द करनी पड़ी और हम लोग अपने गाँव में चले गए।

गाँव मे जाने से सभी दुखी थे लेकिन वहाँ जाने से सभी को अच्छा लगने लगा। गाँव मे मेरे दादा, दादी, चाचा सभी रहते थे और गाँव में बहुत शांति का वातावरण था मेरे घर के पीछे बहुत सारे बड़े-बड़े  पेड़ लगे हुए थे।

हमारे दादा जी ज्यादा गर्मी लगने पर हमे उस पेड़ के छाँव में ले कर जाते थे। वहाँ बहुत अच्छी ठंडी ठंडी हवा रहती थी। वहाँ गाँव में दादाजी के भी दोस्त आते थे और बैठ कर दोनों घंटो तक बातें करते थे और वो उन्हें मेरे बारे में बताते थे।

उनके चले जाने के बाद जब हम उन से पूछते थे तो मेरे दादा अपने दोस्त के बारे में बताते थे। वहां उस पेड़ पे कुछ फल भी रहते थे, जिन्हे तोड़ कर हम अपने दादा के साथ खाते थे। हमे ताज़ा ताज़ा फल खाने का मौका मिलता था और वो सभी फल स्वादिष्ट भी रहते थे।

समय के समय गावँ के बहुत सारे लड़के उस पेड़ के छाँव में आते थे और हम सभी के साथ कुछ न कुछ खेल खेलते रहते थे। कभी – कभी तो खेलते खेलते रात हो जाती थी और कुछ दिन रहने के बाद हमारे गाँव में कुछ दोस्त बन गए।

फिर हम जब भी गांव जाते तो उनके साथ हमेशा कुछ न कुछ नए खेल खेलते रहते थे। कभी कभी हम उनके घर पे भी खेलने के लिए जाते थे और वो भी हमारे गांव के घर आते थे। फिर हमें गावँ में रहने में अच्छा लगने लगा था और हम सब गांव में बहुत मस्ती करने लगे।

दादा और दादी भी हमे बहुत प्यार करते थे, जब वो बाजार जाते थे तो मेरे लिए कुछ न कुछ जरूर ले कर आते थे। इसी तरह कुछ दिन बाद हमारे गर्मी की छुट्टीया खत्म हो गयी और हमे फिर शहर लौटना पड़ा।

लेकिन हमें वहाँ जाने के बाद भी गाँव की याद आते रही, हमारे विदेश जाने की योजना रद्द हुआ थी तो हम सभी बहुत दुखी हुए थे। लेकिन वो गर्मी की छुट्टी गाँव जाने से सबसे खास बन गयी और उसके बाद हम सभी हर छुट्टियाँ में गाँव जाने लगे।

हमारे लिए गर्मी की छुट्टीया बहुत महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि साल में एक बार हमारे दिमाग को फ्रेश करने का मौका मिल जाता हैं। जिससे फिर गर्मी की छुट्टीयो के बाद हम अपने स्कूल में नई ऊर्जा से पढ़ाई कर पाते हैं और हमारी पढाई में रुची बनी रहती हैं।

हम जब अपने कॉलेज में जाते हैं तो हमे कॉलेज में भी गर्मी की छुट्टीया मिलती हैं। इन छुट्टीयो में हम कुछ पढ़ाई से अलग सीखने की कोशिश करते हैं, या फिर अपने परिवार के साथ कुछ पल अच्छे से बिताते है।

हम अपने कॉलेज की गर्मी की छुट्टीयो में कॉलेज के दोस्तो के साथ एक पिकनिक की योजना बना सकते है। एक बार हम सभी गोवा गए थे, वहां हम सभी दोस्तो ने पढ़ाई से दूर रह कर बहुत मस्ती की।

गोवा जाकर हम सभी ने दिल खोल कर मस्ती कि थी और हम लोग जिधर भी घूमने जाते थे, वहा के पलो को अपने कैमरा में कैद कर लेते थे। वहाँ काफी सारे खेल खेले और कई तरह के झूला भी झूले थे।

कुछ दिन बाद छुट्टीया खत्म हुइ तो हम सभी अपने घर वापस आ गए। कॉलेज में वापस आने पर हम घंटो -घंटो तक गोवा में बिताये दिनों के बारे में बाते करते रहते थे। हमे गर्मी की छुट्टि में खुल कर मस्ती करना चाहिए, ये छुट्टियां हमारे लिए एक त्योहार के तरह साल में एक बार ही आती है।

इन छुट्टियों में अगर हम कुछ खास ना करे और छुट्टियां ऐसे ही खत्म कर दे तो इससे बादमे काफी अफसोस होता हैं। सबका छुट्टियां बिताने का अपना अपना तरीका होता है, आप भी इन छुट्टीयो को अपने तरीके से कुछ खास जरूर बना सकते है।

ये सब पल जिंदगी में बार बार नही मिलते हैं। इन छुट्टियों से हमारे मन बहलते है, जिससे फिर हमें एक नई ऊर्जा के साथ अपने पढ़ाई में जुड़ने का मौका मिलता है और इससे हमें बहुत मदद मिलती है।


इन्हे भी पढ़े :-

तो यह था गर्मी की छुट्टी पर निबंध, आशा करता हूं कि गर्मी की छुट्टी पर हिंदी में लिखा निबंध (Hindi Essay On Summer Vacation) आपको पसंद आया होगा। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा है, तो इस लेख को सभी के साथ शेयर करे।

Sharing is caring!

Leave a Comment